Kusum Solar Pump Yojana 2024 पंजीकरण, उद्देश्य, आवेदन शुल्क, लाभ, महत्वपूर्ण जानकारियां, महाराष्ट्र में सौर ऊर्जा के नए दौर की शुरुआत

Kusum Solar Pump Yojana- Kusum Solar Pump Yojana is a government initiative in India aimed at providing farmers with affordable and sustainable irrigation solutions. Under this scheme, farmers are offered subsidies to install solar-powered water pumps on their farms, which helps them reduce their dependence on traditional energy sources and lower their overall operational costs.

The solar pumps draw energy from the sun to power water pumps, allowing farmers to efficiently irrigate their crops without relying on expensive diesel or electricity. This not only saves money for the farmers but also reduces carbon emissions and promotes environmental sustainability. The Kusum Solar Pump Yojana is a significant step towards promoting renewable energy adoption in the agricultural sector and empowering farmers with access to reliable and cost-effective irrigation solutions.

WhatsApp Channel Join Button

Kusum Solar Pump Yojana 2024

The Kusum Solar Pump Yojana is a government program that aims to encourage the use of solar energy in agriculture. This initiative provides farmers with discounted solar pumps as an alternative to traditional diesel or electric pumps. The main objective is to decrease reliance on non-renewable energy sources and reduce operational costs for farmers.

These solar pumps are equipped with advanced technology that efficiently converts solar energy into electricity, providing a dependable and sustainable solution for irrigation needs. By harnessing the power of the sun, farmers can enhance their agricultural productivity while also contributing to a cleaner and more environmentally friendly ecosystem. Ultimately, the Kusum Solar Pump Yojana plays a vital role in achieving energy security and promoting sustainable farming practices in India.

WhatsApp Channel Join Button

महाराष्ट्र में सौर ऊर्जा के नए दौर की शुरुआत महाराष्ट्र, भारत का एक महत्त्वपूर्ण राज्य, अब सौर पंप योजनाओं के माध्यम से खेती में नया क्रांति ला रहा है। हमारे प्रतिस्पर्धी द्वारा प्रदान की गई जानकारी के आधार पर, अब तक के योजनाओं से अलग, हम आपको जानकारी देंगे कि कैसे “कुसुम सोलार योजना” और “शेतकरी सोलर पंप योजना” महाराष्ट्र के किसानों के लिए सौर ऊर्जा के उपयोग को प्रोत्साहित कर रहे हैं।

Kusum Solar Pump Yojana

Kusum Solar Pump Yojana Overviews

\
कुसुम सोलार योजनाशेतकरी सोलर पंप योजना
सौर पंपों की खरीद पर सब्सिडी प्राप्त करेंसौर पंपों की स्थापना कने का मौका
ऊर्जा लागत में कमीकिसानों की सहायता
प्रदूषण में कमीखेती में बेहतर प्रदर्शन
खेती में उत्पादन की वृद्धिप्रदूषण कमी
CategoryGovt Schemes
Govt. Websitehttps://pmkusum.mnre.gov.in/landing.html

Kusum Yojana 2024

Kusum Yojana के अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा 17.5 लाख डीज़ल पम्पो और 3 करोड़ खेती उपयोगी पम्पस को आगे आने वाले 10 वर्षो में सोलर पम्पस में परिवर्तित किये जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। ये राजस्थान के किसानो के लिए महत्वपूर्ण योजना है । सरकार द्वारा राज्य के किसानो के खेतो में सोलर पंप लगाने और सोलर उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए प्रारंभिक बजट 50 हजार करोड़ रुपयों का आवंटन (To install solar pumps and promote solar products, an initial budget of Rs. 50 thousand crores was allocated.) किया गया है। इस योजना के अंतर्गत बजट 2020 -21 में राज्य के 20 लाख किसानो को सोलर पंप लगाने में मदद की जाएगी।

Check This- Pan Aadhar Link 2024{Download Link}

कुसुम योजना पंजीकरण

Kusum Yojana के अंतर्गत ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों माध्यमों से आवेदन किया जा सकता है। इस योजना के अंतर्गत सौर ऊर्जा संयंत्र की स्थापना हेतु तथा भूमि लीज पर देने हेतु आवेदन किया जा सकता है। वह सभी आवेदन कर्ता जिन्होंने अपनी भूमि लीज पर देने के लिए पंजीकरण करवाया है उनकी सूची आरआरईसी द्वारा आधिकारिक वेबसाइट पर प्रदर्शित की जाएगी। वे सभी नागरिक जो सौर ऊर्जा संयंत्र लगाने के लिए भूमि लीज पर लेना चाहते हैं वह आवेदकों की सूची आरआरईसी की वेबसाइट से प्राप्त कर सकते है जिसके पश्चात वह पंजीकृत आवेदकों से संपर्क करके संयंत्र लगाने के लिए आवेदन कर सकते हैं।

यदि आवेदक द्वारा ऑनलाइन पंजीकरण किया गया है तो आवेदक को एप्लीकेशन आईडी प्राप्त होगी। आवेक को ऑनलाइन आवेदन की स्थिति में आवेदन पत्र के प्रिंट आउट को प्रिंट आउट अपने पास सुरक्षित रखना होगा। यदि आवेदक द्वारा ऑफलाइन आवेदन किया गया है तो आवेदक को एक रसीद दी जाएगी जो की आवेदक को संभाल कर रखनी होगी। आवेदन करने के लिए आवेदन द्वारा सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज जमा करने होंगे।

Kusum Yojana 2024 का उद्देश्य

जैसे  की आप लोग जानते है कि भारत में कई ऐसे राज्य हैं, जहां सूखा पड़ता है। तथा वंहा खेती करने वाले किसानो की खेती को सूखे से नुकसान उठाना पड़ता है। इस बात पर ध्यान देते हुए केंद्र सरकार ने PM Kusum Yojana 2024 को शुरू किया है इस योजना का मुख्य उद्देश्य देश के किसानो को मुफ्त में बिजली उपलब्ध करवाना | इस योजना के तहत किसानो  को सिचाई के लिए सोलर पैनल की सुविधा प्रदान करना जैसे वह अपने खेतो कि अच्छे से सिचाई कर सके | इस कुसुम योजना 2024 के ज़रिये किसान को दोहरा फायदा होगा और उनकी आमदनी में भी बढ़ोतरी होगी | दूसरा यदि किसान अधिक बिजली बनाकर ग्रिड को भेजते है। तो उन्हें उसकी कीमत भी मिलेगी।

Also Check- Digital India Registration 2024

कुसुम सोलार योजना (Kusum SolarPump Yojana) क्या है?

कुसुम सोलार योजना महाराष्ट्र के किसानों के लिए एक महत्वपूर्ण पहल है जिसका उद्देश्य है सौर ऊर्जा के उपयोग को बढ़ावा देना। इस योजना के तहत, 5 होर्सपावर (HP) सोलार पानी पंपों पर अधिग्रहण के लिए सब्सिडी प्रदान की जाती है। इसके अलावा, किसानों को सोलार पंपों की खरीद पर सब्सिडी प्राप्त करने का भी मौका मिलता है।

Kusum Yojana आवेदन शुल्क

इस योजना के अंतर्गत आवेदक को सौर ऊर्जा संयंत्र के लिए आवेदन करने के लिए ₹5000 प्रति मेगावाट तथा जीसटी की दर से आवेदन शुल्क का भुगतान करना होगा। यह भुगतान प्रबंध निर्देशक राजस्थान अक्षय ऊर्जा निगम के नाम से डिमांड ड्राफ्ट के रूप में किया जाएगा। आवेदन करने के लिए 0.5 मेगावाट से लेकर 2 मेगावाट तक के लिए आवेदन शुल्क कुछ इस प्रकार है।

मेगा वाटआवेदन शुल्क
0.5 मेगावाट₹ 2500+ जीएसटी
1 मेगावाट₹5000 + जीएसटी
1.5 मेगावाट₹7500+ जीएसटी
2 मेगावाट₹10000+ जीएसटी

Read more- Digital India Registration 

योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

कुसुम सोलार योजना (Kusum Solar Pump Yojana) के लिए आवेदन करना बहुत ही आसान है। आपको निम्नलिखित कदमों का पालन करना होगा:

  1. महावितरण की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं
  2. “कुसुम सोलार योजना” विचारने के बाद, आपको अपना ग्राहक क्रमांक और ग्राहक लॉगिन पूरा करना होगा।
  3. आवेदन करते समय आपको कुछ आवश्यक जानकारी प्रदान करनी होगी, जैसे कि खेत की जानकारी, आपकी इच्छित पंप की जानकारी, और अधिक।
  4. आवेदन सब्मिट करने के बाद, आपका आवेदन प्रक्रिया के अंत में स्वीकृति के लिए जांचा जाएगा।
  5. स्वीकृति के बाद, आपको सोलार पंप की स्थापना करने का मौका मिलेगा और आपको सब्सिडी दी जाएगी।

See also Kanya Sumangala Yojana: बेटी की पैदाइश पर खुशियां, ₹15,000 की योजना!

Read this- PM Modi announces new scheme

कुसुम सोलार योजना के लाभ

कुसुम सोलार योजना (Kusum SolarPumpYojana) के अंतर्गत सोलार पंपों का उपयोग करने के कई लाभ हैं:

  • ऊर्जा स्ववलंबन: सोलार पंपें खेतों के लिए बिना विद्युत स्रोत के काम करती हैं, इससे ऊर्जा लागत कम होती है और किसान ऊर्जा स्व

वलंबी बनते हैं।

  • कम रुपये की खरीद: कुसुम सोलार योजना (Kusum Solar Pump Yojana) के तहत, सोलार पंपों की खरीद पर सब्सिडी प्राप्त करने का मौका होता है, जिससे किसानों को कम लागत में पंपें मिलती हैं।
  • प्रदूषण में कमी: सौर पंपें प्रदूषण को कम करने में मदद करती हैं, क्योंकि ये किसी भी जल स्रोत से ऊर्जा प्राप्त करने की आवश्यकता नहीं होती है।

Click Here- Jharkhand Petrol Subsidy 2024

योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

शेतकरी सोलर पंप योजना” के लिए आवेदन करने के लिए निम्नलिखित कदमों का पालन करें:

  1. महावितरण की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं
  2. “शेतकरी सोलर पंप योजना” के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के बाद, आपको अपना ग्राहक क्रमांक और ग्राहक लॉगिन पूरा करना होगा।
  3. आवेदन करते समय आपको कुछ आवश्यक जानकारी प्रदान करनी होगी, जैसे कि खेत की जानकारी, आपकी इच्छित पंप की जानकारी, और अधिक।
  4. आवेदन सब्मिट करने के बाद, आपका आवेदन प्रक्रिया के अंत में स्वीकृति के लिए जांचा जाएगा।
  5. स्वीकृति के बाद, आपको सोलार पंप की स्थापना करने का मौका मिलेगा और आपको सब्सिडी दी जाएगी।

See also Sarkari Yojana  2024 Rajasthan: आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज़ 

Check Here- ePunjabSchool login 2024 School

कुसुम योजना के कॉम्पोनेंट्स

कुसुम योजना के चार कॉम्पोनेंट है जो कि कुछ इस प्रकार हैं।

  • सौर पंप वितरण: कुसुम योजना के प्रथम चरण के दौरान केंद्र सरकार के विभागों के साथ मिलकर बिजली विभाग, सौर ऊर्जा संचालित पंप के सफल वितरण करेगी।
  • सौर ऊर्जा कारखाने का निर्माण: सौर ऊर्जा कारखानों का निर्माण किया जाएगा जोकि पर्याप्त मात्रा में बिजली का उत्पादन करने की क्षमता रखते हैं।
  • ट्यूबवेल की स्थापना: सरकार द्वारा ट्यूबवेल की स्थापना की जाएगी जो कि कुछ निश्चित मात्रा में बिजली उत्पादन करेंगे।
  • वर्तमान पंपों का आधुनिकरण: वर्तमान पंपों का आधुनिकरण भी किया जाएगा कथा पुराने पंपों को नए सौर पंपो से बदला जाएगा।

कुसुम योजना के पहले ड्राफ्ट के अंतर्गत यह प्लांट्स बांझ क्षेत्रों में लगाए जाएंगे जोकि 28000 मेगावाट बिजली उत्पादन में सक्षम है। प्रथम चरण में सरकार द्वारा 17.5 लाख सौर ऊर्जा से चलने वाले पंप किसानों को उपलब्ध कराए जाएंगे। इसके अलावा बैंक किसानों को लोन के रूप में कुल खर्च का 30% अतिरिक्त प्रदान करेगी। किसानों को केवल अग्रिम लागत ही खर्च करनी होगी।

Check Also- PM Awas Yojana 2024

Rajasthan Kusum Yojana से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण जानकारियां

  • कुसुम योजना की एक खास बात यह है कि इस योजना के अंतर्गत प्लांट की कुल लागत का 30% राशि केंद्र सरकार देगी, 30% राशि राज्य सरकार देगी इसके अलावा 30% राशि कृषि उपभोक्ताओं को लोन के रूप में नाबार्ड या अन्य बैटिंग संस्थान द्वारा फाइनेंस करवाए जाएंगे।
  • इसका मतलब यह है कि किसानों को केवल 10% राशि ही देनी होगी।
  • इसके अलावा अतिरिक्त बिजली उत्पादन होने पर बची हुई बिजली को किसान द्वारा बेचा भी जा सकता है।
  • आवेदक के पास आवेदन के समय आधार कार्ड एवं बैंक खाता होना अनिवार्य है।
  • सरकार द्वारा आवेदक के खाते में सब्सिडी की राशि भेजी जाएगी।
  • इसके अलावा किसान, डिस्कॉम एवं बैंक के साथ थर्ड पार्टी एग्रीमेंट साइन किया जाएगा। किसान द्वारा बेची गई बिजली की कमाई को दो हिस्सों में बांटा जाएगा।
  • पहला हिस्सा उपभोक्ता का एवं दूसरा हिस्सा लोन की किस्त का होगा।
  • इस योजना के माध्यम से किसानों तक बिजली पहुंचेगी तथा बंजर जमीन से पैसे कमाए जा सकेंगे।

Also Check- RSCIT Free Course for Female 2024

Conclusion

In conclusion, the Kusum Solar Pump Yojana is a transformative initiative that has the potential to revolutionize agriculture in India. By providing farmers with access to solar-powered pumps, the government aims to reduce their reliance on traditional energy sources and promote sustainable farming practices. This scheme not only addresses the issue of rising fuel costs but also contributes to environmental conservation by reducing carbon emissions. Furthermore, the introduction of solar pumps can improve irrigation efficiency and crop productivity, ultimately leading to higher incomes for farmers. Overall, the Kusum Solar Pump Yojana is a forward-thinking program that has the potential to bring about significant positive change in the agricultural sector and contribute to India’s overall development.

Kusum Solar Pump Yojana FAQ’S

कुसुम सोलार योजना (Kusum Solar Pump Yojana) क्या है?

कुसुम सोलार योजना एक सरकारी योजना है जो महाराष्ट्र सरकार द्वारा प्रदान की जाती है। इस योजना के तहत किसानों को सौर पंप की खरीद पर सब्सिडी प्राप्त करने का मौका मिलता है।

किसे लाभ मिलता है Kusum Solar Pump Yojana से?

Kusum Solar Pump Yojana के तहत सौर पंप की खरीद पर सब्सिडी केवल महाराष्ट्र के किसानों को ही प्राप्त होती है।

क्या Kusum Solar Pump Yojana और “शेतकरी सोलर पंप योजना” के लिए आवेदन कैसे किया जा सकता है?

आप इन योजनाओं के लिए आवेदन महावितरण की आधिकारिक वेबसाइट पर कर सकते हैं। वहां आपको आवेदन प्रक्रिया के बारे में विस्तार से जानकारी मिलेगी।

कौन-कौन से लाभ Kusum Solar Pump Yojana और “शेतकरी सोलर पंप योजना” के तहत प्राप्त कर सकते हैं?

इन योजनाओं के तहत, महाराष्ट्र के किसान और खेती के व्यक्ति लाभ प्राप्त कर सकते हैं। विवरण और पात्रता मानदंडों के बारे में अधिक जानकारी के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर जांच करें।

Related Posts:-

Ayushman Card Online

CPP Payment Dates 2024

Pension KYC Update 2024

Karnataka Arundhati Scheme 2024

WhatsApp Channel Join Button

Leave a Comment